वास्तु शास्त्र में ज्ञानेंद्रिय आधार

ज्ञानेंद्रिय सिद्धांत हम सभी यह जानते हैं कि जिस प्रकार वास्तु शास्त्र के सिद्धांत पंचतत्व या पंचमहाभूतओ के इर्द गिर्द घूमते हैं। उसी प्रकार वास्तु

Read More »

वास्तु शास्त्र का पर्यावरण सुरक्षा में योगदान

प्रकृति के साथ तालमेल  प्रकृति के द्वारा बनाए गए सिद्धांतों एवं इनके साथ तालमेल रखते हुए जीवन बिताना ही वास्तु शास्त्र के मर्म में छिपा

Read More »

वास्तु शास्त्र का स्वास्थ्य से संबंध

स्वास्थ्य के लिए विभिन्न वास्तु आयाम:  वैदिक वास्तु शास्त्र में वर्णित सभी दिशा निर्देश पंचतत्व के सिद्धांत के आसपास घूमते हैं। सृष्टि मानव जीवन पर्यावरण

Read More »

भूमि की विभिन्न सकारात्मक एवं नकारात्मक ऊर्जा तरंगे

परंपरागत वास्तु शास्त्र का विषय क्षेत्र  परंपरागत वास्तु शास्त्र में दो प्रकार का अध्ययन किया जाता रहा है एक तो वह जो कि विभिन्न दिशाओं

Read More »

तत्वों की संख्या 5 ही क्यों

सृष्टि के पांच तत्वों के बाद निश्चित रूप से रसायन विज्ञान के छात्रों के गले नहीं उतरेगी क्योंकि उन्होंने तो इन तत्वों (एलिमेंट्स) के विषय

Read More »

वास्तु शास्त्र की पृष्ठभूमि आधार महत्त्व एवं प्रयोग

वास्तु शास्त्र क्या है। परिभाषा & सृष्टि के नैसर्गिक नियमों के अनुसार रहने का नाम ही वास्तु है, अर्थ यदि हम इस संपूर्ण जगत के

Read More »

वास्तु शास्त्र का परिचय एवं वास्तु लाभ

‘‘शास्त्रेणानेन सर्वस्य लोकस्य परम् सुखम् । चतुर्वर्ग फल प्राति श्लोकाश्च भवेभियुवम् । शिल्पशास्त्र परिज्ञान मृत्योपि सुजेथा वृजथम् परम–परमानन्द जनक देवान्मिथे मृथम्। शिल्प बिना नहि जगदीषु

Read More »